Swachh Bharat – who cares!

Bopal, Ahmedabad is one of the fastest grown satellite town is well known among Amdavadis. This small village during 2005 started growing because of many factors, property prices were cheap and Sardar Patel Ring Road was already under construction by AUDA (Ahmedabad Urban Development authority). In around a decade’s time this place became hot favorite as so many properties came up. Now the prices are beyond imagination.

BJP governement did enough to create infrastructure. Service roads were built by AUDA on Sardar Patel Ring Road. At many junction points overbridge were planned. One such Overbridge “VAKIL SAHEB OVERBRIDGE” (http://www.dnaindia.com/ahmedabad/report-bopal-s-new-flyover-inaugurated-named-after-an-rss-founding-father-2494567)

Overbridge is long enough, approximately 1.4 kms and below there is enough space for vehicle parking. Bopal Ghuma Nagarpalika, AUDA (Ahmedabad Urban Development Authority) and Ahmedabad Municipal Corportion – out of these three local government who is responsible for cleaning of  overbridge road and below space ? For months there is no cleaning below the bridge where vehicles are parked, as usual the pillars are now dirty and being used place to urinate.

I pointed out this matter to Ghatlodia MLA Shree Bhupendra Patel Bhupendra Patel Official  and  (Shri Maheshbhai Patel, Bopal Ghuma Nagarpalika.

Sadly such pointing out on social media is not taken seriously.  I would be writing, requesting AUDA to know why space below the bridge has not been cleaned for months. I know i am not going to get any reply.

Just hoping that it would be cleaned. Particularly people who are urinating near the pillars could be stopped. Now Luxury buses are freely parked below the bridge near pillar area. Uploading photos of dirty place might not be good. Let us hope our authority wakes up and fix the issues.

Note: I still support BJP but feel that something is not right with elected members, when pointed out something wrong – one is never getting response.

In past I pointed out https://davcolor.wordpress.com/2017/09/18/swachh-bharat-some-grievances/ (this place is as it is since three years)

One might say that if government is not doing anything, citizen should come forward and do something. But this seems like a scam, authorities might have awarded cleaning contract to some agency and work being done only on paper ?!

I should also come up with some positive blog but when see such a blunder I feel that we will be behind rest of the world !

Advertisements

NARENDRA MODI

Very happy to share this on my blog. Credit goes to the person who sent me following on WHATSAPP MESSANGER :-

ढाई साल में 66 वर्ष का युवा
8000 किमी के हाइवे बनवाकर
50 लाख मकान बनवाकर
करोडो शौचालय बनवाकर
6 नए एम्स बनवाकर
3 नयी पनडुब्बियां बनवाकर
तेजस विमान हिन्दुस्तान में बनवाकर
धनुष तोप दिलाकर
Orop देकर
सर्जिकल स्ट्राइक करके
तीनो सेना को मजबूत बना कर
65 देशों से व्यापारिक रिश्ते बनाकर
चीन को पीछे छोड़कर
विकास दर 7.5के ऊपर ले जाकर
महगाई 5 से नीचे लाकर
फसल बीमा देकर
12 रु में 2 लाख का बीमा देकर
नोटबंदी करके नक्सलियों पाकिस्तानियो को दुखी करके
राफेल विमान का सौदा करके
सऊदी अरब में शेख से मंदिर बनवा के
बुरहान वानी को ऊपर पहुचा के

अलगाववादी कश्मीरियों को औकात में लाके।

बस सब की गालियाँ खाता है।

जो काम करता है,

वो कभी ये नहीं कहता कि

*काम बोलता है*

क्योंकि

*काम दिखता है।*

*”मोदी जी”* आप को “शर्म” आनी चाहिए कि आपने
“अपने परिवार” और
अपने भाइयों को अपनी “कैबिनेट” में या “राजनीति” में लाने का ज़रा भी “प्रयास नहीं किया” आप को इस बात के लिए भी “शर्म” आनी चाहिए कि आप के “भाई” साधारण नागरिक का जीवन जी रहे हैं और आप की “भतीजी गरीबी” में “मर गई”  !!

*”मोदी जी”* आप को “शासन चलाने” की कला *”मुलायम सिंह”* से “सीखनी” चाहिए जहाँ “सैफई” के उनके परिवार के करीब “36 सदस्य”*”उत्तर प्रदेश”* में “ब्लाक प्रमुख” के पदों पर सुशोभित है वही *”मुलायम सिंह”* जिन्हें “दो वक़्त की रोटी” भी मुश्किल से नसीब होती थी आज *”करोडपति”* ही नहीं *”अरबपति”* हैं  !!

“30 वर्ष” पहले *”बहन मायावती”* का “पूरा परिवार” दिल्ली में “एक कमरे” में रहा करता था, आज *”मायावती के भाई”* का “बंगला” सुन्दरता में *”ताज महल”* को भी “मात” दे रहा है  !!

*”देवगोडा”* अपने “पोते” को *”100 करोड़” की “बहु भाषाई फिल्म”* में बतौर *”सुपर हीरो”* उतार रहे हैं, “कर्नाटक” के “हासन जिले” में “आधी से ज्यादा” खेती की ज़मीन *”देवगोडा परिवार”* की है  !!

*”कर्नाटक” के मुख्यमंत्री “सिद्धारमैया”* का “बेटा” जो  “सरकारी अस्पताल” में *”मुख्य चिकित्सक”* है और *”छोटा पुत्र” जिसका अभी हाल में “निधन” हुआ है, उसका “ब्रुसेल्स” में बड़ा कारोबार है, और उसके बच्चे “जर्मनी” में “पढ़” रहे हैं*

*”सोनिया का दामाद”* जो कि “मुरादाबाद” में “पुराने पीतल” के आइटम “बेचा” करता था, आज *”पांच सितारा होटल” का “मालिक”* है, उसका *”शिमला” में एक “महल” है और “लक्ज़री कारों” का “मालिक” है*  !!

जबकि *”आप की माँ” आज भी “ऑटोरिक्शा” में चलती है और आप के “भाई ब्लू कालर जॉब” यानि मेंहनत “मजदूरी” कर रहे हैं और आप की एक “भतीजी” शिक्षामित्र है (आप उसे टीचर की नौकरी भी नहीं दिलवा पाए ) जो कि दूसरो के “कपडे सिलती” है तथा “ट्यूशन पढ़ा” कर अपनी “जीविका” चला रही है* !!

*”मोदी जी”* देश बहुत “शर्मिंदा” है कि आप “प्रधानमंत्री” होते हुए भी अपने “भाइयों” को “MLA या MP” का “टिकट नहीं दिलवा पाए” आप “चाहते” तो अपनी “बहनों” को “राज्य सभा” में “MP” बनवा सकते थे और आप के *”जीजा”,* “जिला स्तर” के “चुनाव लड़” कर “ब्लाक प्रमुख” तो बन ही सकते थे, *आप “सीखने” में बहुत “सुस्त” हैं* “15 वर्ष” तक “गुजरात” में और *”प्रधानमंत्री”* का “आधा कार्यकाल”, *”दिल्ली”* में बिताने के बाद भी आप *”लालू, मुलायम, सोनिया गाँधी, बहन मायावती”* से कुछ भी “नहीं सीखे” और अपनी “रसोई का खर्च” भी “खुद वहन” कर रहे हैं  !!
————————————-
उपरोक्त बातो से हमे *”शर्मिंदा”* तो होना पड़ा लेकिन उतना ही *”गर्व”* भी है कि हमने अपने जीवन का *”पहला वोट” , “2014” में एक बहुत ही “ईमानदार और देशभक्त इंसान” को वोट दिया “हम सभी गर्व” करते है की हमे अपने जीवन में आप जैसे देशभक्त का मार्गदर्शन मिला सच में “ईमानदारी और कर्तब्यनिष्ठा” की “पराकाष्ठा” है*
————————————
मेरे भाइयों ! इस मैसेज को ब्लास्ट कर ही दीजिए ! देशहित के लिए जरूरी है !! ————————————-